hola_astak वर्ष 2021 में 29 मार्च के दिन होली रंगोत्सव मनाया जाएगा. इस होली को धुलैण्डी के नाम से भी जाना जाता है. होली का त्योहार मस्ती और रंग का पर्व है. यह पर्व बंसत ऋतु से चालीस दिन पहले मनाया जाता है. सामान्य रुप से देखे तो होली समाज से बैर-द्वेष को छोडकर एक दुसरे से मेल मिलाप करने का पर्व है.

Makar-sankranti 14 जनवरी के दिन सूर्य मकर राशि में प्रवेश करते है. मकर संक्रान्ति के दिन से मौसम में बदलाव आना आरम्भ होता है. यही कारण है कि रातें छोटी व दिन बडे होने लगते है. सूर्य के उतरी गोलार्ध की ओर जाने बढने के कारण ग्रीष्म ऋतु का प्रारम्भ होता है. मकर संक्रान्ति के दिन खाई जाने वाली वस्तुओं में जी भर कर तिलों का प्रयोग किया जाता है.

surya grahan सूर्य ग्रहण से कुछ समय पहले ही सूर्य की रोशनी हल्की पडनी शुरु हो जायेगी. आकाश में चारों और हल्की-हल्की लहरें, इस समय में नजर आ सकती है.

vaisakhi festival 14 April, 2021 Vaisakhi भारत की संस्कृति में अनेक राज्य, अनेक धर्म, अनेक भाषाएं, अनेक रीति-रिवाजों को मानने वाले लोग एक साथ रहते है. अनेक संस्कृतियों का एक साथ रहना, हमें विश्व में एक नई पहचान देता है.

nagpanchami festival शास्त्रों के अनुसार श्रावण मास के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि का दिन नाग पंचमी के रुप में मनाया जाता है. इसके अलावा भी प्रत्येक माह की पंचमी तिथि के देव नाग देवता ही है.

sankranti 2021 वैशाख संक्रांति में सूर्य 14 तारीख को बुधवार के दिन रात्रि समय मेष राशि में 20:23 पर प्रवेश करेंगे. 30 मुहूर्त्ति होगी इस संक्रान्ति के स्नान दान आदि का पुण्य़काल दोपहर 13:59 के बाद होगा.

vrat_upvas भारतीय हिन्दू शास्त्रों में उपवास की विशेष महिमा मानी गई है. शास्त्रों में मानसिक शान्ति-सुख- समृद्धि और मनोकामनाओं कि पूर्ति के लिये उपवास करने की मान्यता है.

rakshabandhan रक्षा बंधन का पर्व एक ऎसा पर्व है, जो धर्म और वर्ग के भेद से परे भाई - बहन के स्नेह की अट्टू डोर का प्रतीक है. बहन द्वारा भाई को राखी बांधने से दोनों के मध्य विश्वास और प्रेम का जो रिश्ता बनता है.

dussehra_fest आश्चिन मास का शुक्ल पक्ष अपने साथ शुभ नवरात्रे लेकर आता है. नवरात्रि उपवास के समाप्त होते ही दशमी तिथि में दशहरा पूरे भारत वर्ष में बडी धूमधाम से मनाया जाता है.

navratri_fest वर्ष 2021 के शारदीय नवरात्रि 7 अक्टूबर, आश्विन शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि से प्रारम्भ होगें. इस दिन चित्रा नक्षत्र, प्रतिपदा तिथि के दिन शारदीय नवरात्रों का पहला नवरात्रा होगा. माता पर श्रद्धा व विश्वास रखने वाले व्यक्तियों के लिये यह दिन विशेष रहेगा.

deepavali श्री महालक्ष्मी पूजन व दीपावली का महापर्व कार्तिक कृष्ण पक्ष की अमावस्या में प्रदोष काल, स्थिर लग्न समय में मनाया जाता है.

basant_panchami_fest बसन्त पंचमी का पर्व माघ मास में शुक्ल पक्ष की पंचमी के दिन मनाया जाता है. इस वर्ष यह पर्व 16 फरवरी, 2021 में मनाया जायेगा. बसन्त पंचमी के दिन भगवान श्रीविष्णु,

durgashtami श्री महालक्ष्मी पूजन व दीपावली का महापर्व कार्तिक कृष्ण पक्ष की अमावस्या में प्रदोष काल, स्थिर लग्न समय में मनाया जाता है.

maha_shivratrifest शिव को शीघ्र प्रसन्न होने वाला देव कहा गया है. शिवरात्रि पर्व त्रयोदशी तिथि, फाल्गुन मास, कृष्ण पक्ष की तिथि को प्रत्येक वर्ष किया जाता है.