Customised Vedic Jyotish Reports

Premium Reports

Vedic Astrology Reports

सौन्दर्य और ज्योतिष का सम्बन्ध (Relationship between Beauty and Astrology)


सुन्दर दिखने की चाहत हर किसी की होती है लेकिन, हर किसी की सुन्दरता लोगों को आकर्षित नहीं करती है. वास्तव में सुन्दरता यानी खबूसूरती कुदरत की देन है. सुन्दरता अपने आप में एक दौलत है. जिसे सौन्दर्य की दौलत मिल जाती है उसे इस संसार में सब कुछ मिल जाता है. ज्योतिषशास्त्र के अनुसार दो प्राकृतिक शुक्र ग्रह शुक्र एवं चन्द्र सौन्दर्य के कारक होते हैं. इन दोनों की शुभ स्थिति कुण्डली में होने पर आमतौर व्यक्ति का रूप आकर्षक होता है.

सौन्दर्य और शुक्र चन्द्र (Beauty and Venus and Moon)
ज्योतिषशास्त्र में शुक्र को सौन्दर्य का देवता माना जाता है. सौन्दर्य से सम्बन्धित सभी विषय में शुक्र ग्रह की स्थिति को देखा जाता है (Venus is the lord of beauty). सुन्दर नयन नक्श भी शुक्र के प्रभाव से प्राप्त होता है. कोई यदि आकर्षक लगता है तो उसमें आकर्षण पैदा करने वाला ग्रह शुक्र ही है. चन्द्रमा शीतलता एवं त्वचा की रंगत का कारक माना जाता है. चन्द्र से ही शरीर में कोमलता तथा कमनीयता को देखा जाता है. ये दोनों ग्रह जिनकी कुण्डली में शुभ एवं मजबूत होकर स्थित हों उन्हें ये दोनों ग्रह रूप, सौन्दर्य एवं कोमलता प्रदान करेंगे. जिन्हें यह प्राप्त होगा वह सुन्दर एव आकर्षक दिखेगा.

शुक्र एवं चन्द्र की युति से सुन्दरता मिलती है लेकिन, इनमें ध्यान देने वाली बात यह होती है कि इन दोनों ग्रहों की युति किस भाव एवं राशि में हो रही है. ग्रहों की दृष्टि तथा अन्य ग्रहों का इनपर प्रभाव भी काफी मायने रखता है.

  • चन्द्र शुक्र की युति और सौन्दर्य (Combination of Moon and Venus for beauty)
    चन्द्र एवं शुक्र की युति किसी भाव में होने पर आमतौर पर यह माना जाता है कि व्यक्ति सुन्दर एवं आकर्षक होगा. परंतु, ज्योतिषशास्त्र के अनुसार चन्द्र शुक्र की युति किस राशि में हो रही है यह सौन्दर्य में विचारणीय होता है.



  • मंगल की राशि में शुक्र चन्द्र की युति (Moon and Venus combination in Mars's sign)
    मंगल की राशि में शुक्र चन्द्र की युति होने पर व्यक्ति खूबसूरत होता है. मंगल का प्रभाव भी व्यक्ति पर दिखता है इसलिए इनका रंग गेहुंआ तथा लालिमा लिये होता है.



  • शुक्र की राशि में शुक्र चन्द्र की युति (Moon and Venus combination in Venus's sign)
    वृष एवं तुला शुक्र की राशि होती है. शुक्र जब अपनी राशि में होता है तो शुक्र की स्थिति मजबूत होती है. शुक्र चमकीला ग्रह है इसके साथ चन्द्र की युति होने से व्यक्ति का रंग गोरा एवं निखरा होता है. इनकी त्वचा दुधिया गोरापन लिये होती है. व्यक्ति बहुत ही आकर्षक होता है.



  • बुध की राशि में शुक्र चन्द्र की युति (Moon and Venus combination in Mercury's sign)
    मिथुन एवं कन्या राशि बुध की राशि होती है. बुध को भी त्वचा का कारक माना जाता है. बुध की राशि में शुक्र एवं चन्द्र की युति होने पर व्यक्ति सुन्दर तथा मोहक होता है. इनका कद कुछ लम्बा होता है. नयन नक्श सुन्दर होते हैं परंतु कुछ सांवले दिखाई देते हैं.



  • गुरू की राशि में शुक्र चन्द्र की युति (Moon and Venus combination in Jupiter's Sign)
    धनु एवं मीन राशि का स्वामी गुरू होता है. गुरू की इन राशियों में शुक्र एवं चन्द्र की युति सौन्दर्य की दृष्टि से बहुत ही अच्छी मानी जाती है. इस राशि में इन दोनों ग्रहों की युति होने से व्यक्ति बहुत ही सुन्दर होता है. शुक्र चन्द्र की युति से शारीरिक बनावट आकर्षक होती है. गुरू के प्रभाव के कारण इनका रंग निखरा होता है. इनकी त्वचा में पीली आभा झलकती है जो इनके सौन्दर्य को बहुत ही मोहक बनाती है.



  • शनि की राशि में शुक्र चन्द्र की युति (Moon and Venus combination in Saturn's sign)
    शनि की राशि मकर एवं कुम्भ है. इन शुक्र चन्द्र की युति होने पर व्यक्ति लम्बा होता है. इनका रंग सांवला होता है परंतु इनकी त्वचा में चमक होती है. शरीर थोड़ा रूखा एवं कठोर भी प्रतीत होता है. लेकिन, शुक्र चन्द्र की युति के कारण ये सांवले सलोने लगते हैं.



  • सूर्य की राशि में शुक्र चन्द्र की युति (Moon and Venus combination in Sun's sign)
    सिंह राशि का स्वामी सूर्य है. सिंह राशि में चन्द्र एवं शुक्र की युति होने पर व्यक्ति लम्बा होता है. मस्तिष्क उन्नत तथा तेज से परिपूर्ण होता है जिससे यह आकर्षक लगते हैं. इनका रंग लालिमा लिए होता है. त्वचा की देख-रेख में कमी करने पर ये सांवले दिख सकते हैं.



  • चन्द्र की राशि में शुक्र चन्द्र की युति (Moon and Venus combination in Moon's sign)
    चन्द्र कर्क राशि का स्वामी है. चन्द्रमा यदि शुक्र के साथ अपने घर में बैठा हो तो उसी प्रकार का फल देता है जैसे तुला एवं वृष राशि में शुक्र चन्द्र की युति का फल होता है अर्थात व्यक्ति बहुत ही गोरा एवं आकर्षक दिखता है. ये कोमल एवं मासूम नज़र आते हैं.
    ये सभी फल जगह एवं परिवेश के अनुसार कुछ अलग हो सकता है. लेकिन, आमतौर पर इसी तरह का परिणाम प्राप्त होता है.

Article Categories: Astrology Yoga
Article Tags: yoga

bottom
Free Vedic Jyotish

Free Reports

Free Vedic Astrology

All content on this site is copyrighted.


Do not copy any content without permission. Violations will attract strict legal penalties.