Customised Vedic Jyotish Reports

Premium Reports

Vedic Astrology Reports

शनि और राहु का सम्बन्ध (Astrological Relationship between Rahu and Saturn)


राहु का नाम केतु के साथ लिया जाता है परंतु इन दोनों ग्रहों में जितना विभेद है उतनी ही समानता राहु एवं शनि में है. शनि और राहु इन दोनों ग्रहों को पाप ग्रह के रूप में माना जाता है. ज्योतिषशास्त्र में शनि और राहु को एक विचार एवं गुणों वाला भी माना गया है. आमतौर पर इन दोनों ही ग्रहों को दु:ख एवं कष्ट का कारक समझा जाता है. लेकिन, ये दोनों ही ग्रह कुण्डली में बलवान हों तो राजयोग के समान फल देते हैं (Strong Rahu or Saturn give results of a Raja yoga). राहु केतु में कुछ समानता हैं तो कुछ विभिन्नताएं भी हैं फिर भी ज्योतिषशास्त्र के बहुत से विद्वानों की सामान्य धारण है कि शनि एवं राहु एक समान ग्रह हैं. दोनों ही ग्रह एक समान फल देते हैं.

शनि राहु में समानता (Similarities between Saturn and Rahu)

शनि एवं राहु दोनों ही कार्मिक ग्रह माने जाते है (Saturn and Rahu give results according to the Karma). कर्मिक का अर्थ होता है कर्म के अनुरूप फल देने वाला. नवग्रहों में शनि देव को दण्डनायक का पद प्राप्त है जो व्यक्ति को उनके पूर्व जन्म के कर्मों के अनुसार सजा भी देते हैं और पुरष्कार भी. राहु का फल भी शनि की भांति पूर्व जन्म के अनुसार मिलता है. राहु व्यक्ति के पूर्व जन्म के गुणों एवं विशेषताओं को लेकर आता है.

शनि एवं राहु दोनों ही ग्रह दु:ख, कष्ट, रोग एवं आर्थिक परेशानी देने वाले होते हैं. परंतु, जन्मपत्री में ये दोनों अगर शुभ स्थिति में हों तो बड़े से बड़ा राजयोग भी इनके समान फल नहीं दे सकता. यह व्यक्ति को प्रखर बुद्धि, चतुराई, तकनीकी योग्यता प्रदान कर धन-दौलत से परिपूर्ण बना सकते हैं. ऊँचा पद, मान-सम्मान एवं पद प्रतिष्ठा सब कुछ इन्हें प्राप्त होता है.

शनि राहु में भेद (Differences between the nature of Saturn and Rahu)
शनि राहु में कुछ समानताएं हैं तो इनमें अंतर भी हैं. शनि का भौतिक अस्तित्व है अर्थात यह पिण्ड के रूप में मौजूद हैं जबकि राहु एक आभाषीय बिन्दु है इसका कोई भौतिक अस्तित्व नहीं है. मकर एवं कुम्भ इन दोनों राशियों का स्वामित्व शनि को प्राप्त है जबकि राहु की अपनी कोई राशि नहीं है. राहु जिस राशि में बैठता है उसे अपने अधिकार में कर लेता है.

शनि देव की गति मंद होने के कारण शनि का फल विलम्ब से अथवा धीरे-धीरे प्राप्त होता है जबकि राहु जल्दी फल देने वाला ग्रह है (Rahu gives quick results while Saturn gives delared results). यह एक पल में अमीर बना देता है तो दूसरे ही पल कंगाल बनाने की भी योग्यता रखता है. शनि देव का गुण है कि यह व्यक्ति को ईमानदारी एवं मेहनत से आगे बढ़ने की प्रेरणा देते हैं तो राहु चतुराई एवं आसान तरीकों से सफलता पाने का विचार उत्पन्न करता है.

शनि राहु में विभेद के साथ समानता (Other similarities between Rahu and Saturn)
शनि एवं राहु में एक बहुत ही रोचक विभेद एवं समनता है. राहु वृष राशि में उच्च का होता है और वृश्चिक में नीच का तो शनि तुला में उच्च होते हैं एवं मेष में नीच होते हैं. इस तरह दोनों ही शुक्र की एक राशि में उच्च के होते हैं और मंगल की एक राशि में नीच के हो जाते हैं.
Article Categories: Kundli
Article Tags:


Comment(s) on this article


  1. jdivakar said on Nov 04, 2012 05:26 PM
    Rahu mithun rashi me ucch aur dhanu rashi me nich ke hote he
  2. Anuj Bhardwaj said on Jan 09, 2013 06:12 PM
    करोड़ों रूपया कमाया पर सब चला गया , कोई शराब बीड़ी ,गुटखा आदि नहीं वर्षों से सोमवार शिव अभिषेक ,मंगलवार ,चोला , नित्य १० माला, गणेश जी , विष्णु जी ,महामृत्युंजय ,दान पुण्य , पर अब पैसा नहीं बचा क्या खाऊँगा,घर कैसे चलेगा पीछले दो तीन महीने में ज्योतिष , व पंडितों ने सब ठग लिया , परेशान हुँ तुरंत मदद करे ।। ना हिम्मत बची , ना आशा , ना पैसा कृपया मदद मदद मदद मदद मदद मदद dob 7-9-73 / 13:30 pm / New Delhi
  3. sanjay bhandula said on Oct 04, 2013 04:51 PM
    05-sept.-1971 time 4-15 pm ludhiana may 2013 se time bahut kharaab ho gaya hay bahut neeche gir gaya huin uthne ka koyi raasta batayiye pleause
  4. Sameer B.Ghodake said on Dec 18, 2013 10:11 AM
    I am suffering Rahu & Shani Takrav Kay this problem when giving good result me. Which cause last birth Iam doing. Please mention My Date of Birth 31/07/2013 Time : 2:10p.m. Place: Ahmadnagar(Mah.)
  5. 4anuj said on Oct 30, 2014 07:32 AM
    ur problems maybe due to saturn 6yj from natal moon so it shud end next month. however, shani ketu in eighth house not so good. otherwise, very gud yog for you, be honest and kind to people.hope this helps.
  6. prakash mistry said on Nov 03, 2014 06:52 AM
    Meri sinh lagna Ki kundali me lagna me rahu Ki sath sani he iske bare me muje jankari bheje

Leave Your Comment


Name
Email
Website
Comment
bottom
Free Vedic Jyotish

Free Reports

Free Vedic Astrology

All content on this site is copyrighted.


Do not copy any content without permission. Violations will attract strict legal penalties.