Customised Vedic Jyotish Reports

Premium Reports

Vedic Astrology Reports

कृष्णमूर्ति पद्धति और दशम भाव – KP Astrology and Tenth House


दशम भाव को कर्म स्थान के नाम से भी जाना जाता है. शरीर के अंगों में दशम भाव घुटनों का प्रतिनिधित्व करते है. घुटनों में होने वाली किसी भी तरह की पीडा का सम्बन्ध शनि देव व दशम भाव से होता है. शनि देव को कर्म करने के लिये प्रेरित करने वाला ग्रह कहा जाता है. यह भाव कर्म भाव होने के कारण व्यक्ति कि मेहनत संघर्ष का उल्लेख करता है. धन कमाने के लिये किया गया कोई भी कार्य दशम भाव से देखा जाता है.

दशम भाव की विशेषताएं:(Specialties of the Tenth House as per K P Systems)


यह भाव काम कि सफलता के लिये भी देखा जाता है. इस भाव से व्यक्ति के कार्यक्षेत्र का विश्लेषण किया जाता है तथा सफलता प्राप्ति के लक्ष्य को पाने के लिये व्यक्ति की चाह भी इसी घर से देखी जाती है. दशम भाव से हर प्रकार का सम्मान, अधिकारी इत्यादि की जानकारी मिलती है. दशम भाव सता पक्ष का भाव है. अधिकार व अधिकारों का प्रयोग करने की प्रवृति भी दशम भाव से देखी जाती है.

दशम भाव से विचार की जाने वाली अन्य बातें:(Other Information of the Tenth House as per K P Systems)


इस भाव से देखी जाने वाली अन्य बातों में अधिकारी व सत्ता पद पर आसीन उच्च अधिकारियों का नाम लिया जाता है जैसे प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति, सरकार, सरकारी दफ्तर. जबकि राजनीति में विपक्षी पक्ष के लिए चतुर्थ भाव को देखा जाता है.

सम्बन्धित लोगों के लिए दशम भाव का फल: (Results of the Tenth House for Your Friends and Relatives as per K.P.Systems)


छोटे भाई-बहनों की दुर्घटनाओं के लिए दशम भाव का विश्लेषण किया जाता है. दशम भाव आजिविका का भाव है होने के साथ ही साथ भाव नवम से द्वितिय भाव होने के कारण पिता के संचित धन का घर भी माना जाता है. संतान की बीमारियों को समझने के लिये दशम भाव का प्रयोग किया जा सकता है. जीवनसाथी को वाहन मिलेगा अथवा नहीं इस विषय में भी नवम भाव का विचार किया जाता है.

घर खरीदने से पूर्व इस घर पर भी ग्रहों का प्रभाव देखना चाहिए. बडे भाई-बहनों की विदेश यात्रा का संबन्ध दशम घर से होता है. देश की राजनीति का आपके जीवन पर प्रभाव का आंकलन भी दशम घर से किया जाता है. राजनैतिक व्यवस्था के लिये भी यह भाव देखा जाता है. कारोबार की तरक्की का संबन्ध भी दशम घर से होता है.

दशम भाव से घर के स्थानों का विचार:- (Place of the Tenth House in the Home as per K.P.Systems)


घर की छत को दशम भाव का स्थान माना जाता है.
Article Categories: KP Astrology


Comment(s) on this article


  1. khubiram said on Apr 29, 2012 05:47 PM
    dasham bhav ke bare me jankari achchhi lagi kuch hamare bare me bhi batao gurug - 27-7-1972 , 10:55am , bharatpur rajasthan
  2. Ram pal said on Aug 26, 2014 07:31 AM
    Tenth house in shukr please information Hindi language .

Leave Your Comment


Name
Email
Website
Comment
bottom
Free Vedic Jyotish

Free Reports

Free Vedic Astrology

All content on this site is copyrighted.


Do not copy any content without permission. Violations will attract strict legal penalties.