सूर्य का कन्या राशि में जाना कन्या संक्रांति के नाम से जाना जाता है. कन्या संक्रांति में सूर्य का पूजन और राशि का पूजन होता है. इस समय पर सूर्य का बुध के स्वामित्व की राशि कन्या में प्रवेश होता है. ज्योतिष शास्त्र में सूर्य ग्रह को आत्मा का स्थान प्राप्त होता है. राजा की उपाधी भी इन्हें ही प्राप्त है. इस कारण से सूर्य के गोचर को ज्योतिष शास्त्र में बहुत महत्व दिया गया है. सूर्य देव एक राशि में लगभग एक महीने रहते हैं. सूर्य जब अपना गोचर बदलते हैं तो वह संक्रांति के नाम से भी जाना जाता है. पूरे साल में 12 संक्रांतियां होती हैं और सितंबर माह में आती है कन्या संक्रांति क्योंकि त्ब सुर्य कन्या राशि में गोचर करते हैं.

कन्या संक्रांति समय

इस वर्ष साल 2020 में सूर्य 16 सितंबर 2020 को 19:07 पर सिंह राशि से निकल कर कन्या राशि में प्रवेश करेंगे और पूरे माह इसी राशि में गोचरस्थ होंगे. सूर्य का कन्या राशि में गोचर सभी राशियों पर किसी न किसी रुप में असर डालता अवश्य है.

सूर्य का कन्या राशि में गोचर प्रभाव

मेष राशि

मेष राशि वालों के लिए सूर्य का गोचर होगा छठे भाव में होने से आप अपने विरोधियों को परास्त कर सकने में सफल होंगे. आपके विरोध बढ़ सकते हैं. बातों से विवाद बढ़ने कि स्थिति भी अधिक है. आपके साहस में वृद्धि होगी. अपने छुपे हुए विरोधियों को पकड़ भी सकते हैं. सूर्य का गोचर आपके लिए बेहतर मौके लाने वाला होगा. अगर आप कोई कानूनी मसलों को जीतना चाहते हैं तो आपके लिए इस समय बेहतर हो सकता है. आपको स्वास्थ्य को लेकर दिक्कत हो सकती है. चोट इत्यादि लग सकती है. आप अपनी कठोर वाणी से लोगों के साथ द्वेष की स्थिति झेल सकते हैं.

वृषभ राशि

सूर्य का गोचर इस समय वृषभ रासि वालों के पांचवें घर को प्रभावित करने वाला होगा. वृषभ राशि के लोगों को अपनी कार्यक्षमता में वृद्धि देखने को मिलेगी. आपके लिए पंचम भाव का सूर्य ग्रह का गोचर होगा.आपकी शिक्षा को लेकर मन में बहुत से सपने होंगे जो इस समय पूरे हो सकते हैं. आपको लव लाईफ में नए जीवन का आगमन हो सकता है पर ध्यान रखें की कहीं आपका व्यवहार रिश्तों में दूरी न ले पाए. आप कुछ फंग्शन या किसी समारोह में आपकी यात्रा हो सकती है.

मिथुन राशि

मिथुन राशि वालों के चौथे घर में सूर्य ग्रह का गोचर होना आपके रुख को थोड़ा कम कर सकता है. आपके लिए परिवार को समय देना जरूरी होगा अन्यथा परेशानी की स्थिति घर से अलगाव पैदा कर सकती है. सूर्य के इस गोचर के समय पेरंट्स को लेकर भी आप भी चिंता में रह सकते हैं. कुछ नए कार्यों को लेकर कारोबार में दिक्कतें होंगे. इस समय अधिकारियों के साथ तनाव भी रहेगा पर स्थिति आपके नियंत्रण में रह सकती है. स्वास्थ्य को लेकर सजग रहना चाहिए. बीमारी को नज़रअंदाज़ न करें.

कर्क राशि

सूर्य का गोचर कर्क राशि वालों के लिए परिश्रम को अधिक करने वाला होगा. आप अपनी मेहनत से आगे बढ़ सकते हैं. काम काज में आप अपने परिश्रम से भाग्य को प्राप्त कर सकते हैं. इस समय कुछ सकारात्मक बदलाव लेकर आने वाला होगा. पढ़ाई के क्षेत्र आपको किसी वजह से बीच में ही छूट गई थी वो एक बार फिर शिक्षा प्राप्त करने के लिए आगे बढ़ सकते हैं. प्रारंभिक शिक्षा के लिए अभी बेहतर मौके भी आएंगे. इस गोचर के दौरान आपको उस काम में सफलता मिलेगी जो प्रतियोगिताओं में चल रहा है.

सिंह राशि

सूर्य ग्रह का गोचर सिंह राशि में होने से आप कुछ क्रोधित अधिक रह सकते हैं. इस समय ग्रह शुभफलदायक सिद्ध हो सकता है. आर्थिक क्षेत्र में स्थिति का लाभ मिल सकता है. आप इस समय दूसरों का नेतृत्व करने की बेहतर क्षमता रख सकते हैं. इस समय मकान अथवा भूमि से जुड़े काम कर सकते हैं. परिवार में लोगों के साथ कुछ बातचीत बहस में भी बदल सकती है. आपको मुख से जुड़े कोई रोग तंग कर सकते हैं. पेट में गर्मी के कारण मुंह में छाले उत्पन्न हो सकते हैं. आखों से जुड़े रोग भी इस समय कुछ दिक्क्त दे सकते हैं.

कन्या राशि

सूर्य का गोचर आपकी ही राशि में होने वाला है. ऎसे में आपकी क्षमता में निखार आ सकता है. आप कुछ अधिक प्रयास भी कर सकते हैं. वैवाहिक जीवन में तनाव की परेशानी होगा. किसी न किसी कारण से रिश्तों में मनमुटाव की स्थिति अधिक हो सकती है. अपने कार्यक्षेत्र में आप वाणी के दम पर लोगों को प्रभावित कर सकते हैं. प्रतियोगी परीक्षाओं में आपको अच्छे परिणाम मिल सकते हैं.

तुला राशि

तुला राशि के जातकों के लिए ये गोचर उनकी व्यथ की भागदौड़ को बढ़ा सकता है. आप इस समय कही अन्य स्थान पर जाक्र कुछ नए काम करने का सोच सकते हैं. बच्चों और परिवार में कुछ लोगों के लिए आप पैसे ज्यादा ही खर्च करने वाले हैं. आपको कुछ बाहरी लोगों से मदद मिल सकती है. लेकिन ध्यान से अपने काम करने की जरूरत है. अगर लापरवाही बरतेंगे तो स्थिति परेशानी दे सकती है. इलैक्ट्रानिक से जुड़े काम आपको लाभ दे सकते हैं. आपके लिए जरूरी होगा थोड़ा खुद को कंट्रोल में रखना.

वृश्चिक राशि

आप लोगों के लिए लाभ में कमी का दौर हो सकता है. उन लोगों के लिए सूर्य का यह गोचर फलदायी साबित होगा जो किसी ऎसे कामो से जुड़े हुए हैं जिनमें तकनीक का उपयोग अधिक किया जा रहा होगा. विदेशी संस्था में काम करने वाले लोगों को अच्छे लाभ मिल सकते हैं. व्यापार के क्षेत्र में मुनाफे का दौर भी आएगा.

धनु राशि

पारिवारिक जीवन की बात की जाए तो आपके लिए सूर्य का गोचर कुछ परेशानी का बढ़ाने वाला हो सकता है. बड़े भाई-बहनों का आपको सहयोग प्राप्त होगा. शादीशुदा जीवन में अशांति का असर रह सकता है. इस समय माता-पिता की स्थिति आपके तनाव को शायद बढ़ा सकती है. आपको काम में फायदा मिल सकता है. प्रेम संबंधों में आपको सकून की प्राप्ति हो सकती है. कार्यक्षेत्र में आप नयी चीजों को ला सकते हैं. आपको भागदौड़ अधिक करनी होगी. अपने खर्चों पर ध्यान देने की जरुरत होगी क्योंकि व्यर्थ की चीजों पर धन खर्च करने से इस दौरान बचना चाहिए.

मकर राशि

धन को इस्तेमाल करने की नौबत आए ऐसा कोई भी काम इस दौरान न करें. आप मानसिक और शारीरिक रुप से थकान में हैं. आपके लिए चीजों को समज पान आसान नही है. आप वास्त्विकता को जान रहे हैं लेकिन सभी उसे नहीं तो ऎसे में आपके लिए जरूरी है की कुछ को मौन रखते हुए काम करें. शिक्षार्थियों को फायदा मिल सकता है. जो लोग काम को शुरु करने वाले हैं वे इस स्मय पर आवेदकर कर सकते हैं बेहतर परिणाम मिल सकते हैं. इस समय पर आपको कोई व्यक्ति सहायक बन सकता है. विदेशों में जाकर लाभ अर्जित करने का समय है.

कुम्भ राशि

कुंभ राशि वालों के लिए सूर्य का प्रभाव तनाव ओर परेशानी दे सकता है. आपके काम में ऎसी परिस्थितियां आ सकती हैं जो अचानक से आपको प्रभावित करने वाली होंगी. आप इस समय पुरानी बातों को लेकर ज्यादा ही परेशानी में होंगे. आपको कुछ घाटा हो सकता है. आपके मतभेद हो सकते हैं परिवार के बड़े बुजुर्गों के साथ. आपको अपने काम या फिर जीवन के दूसरे क्षेत्रों में आ रही रुकावटों पर ध्यान देना चाहिए. आप स्वास्थ्य से जुड़ी तकलीफें जेल सकते हैं.

मीन राशि

आप लोगों के साथ अधिक मेल जोल न करना चाहें. आप अपनी भावनाओं को दूसरों तक नहूं पहुंचा पाएंगे. बाधाओं के बारे में विचार करने के लिए बेहतर समय है. जीवनसाथी के स्वास्थ्य की कमी आप पर नकारात्मक प्रभाव डाल सकती है. आपकी भी चिंताएं बढ़ेंगी ऎसे में आपका स्वास्थ्य भी इस समय खराब हो सकता है. आपके काम को लेकर दूसरे अधिक संतुष्ट न हो पाएं. घर पर किसी बात को लेकर लोगों से दूरी बन सकती है. साझेदारी में काम करते हैं तो कोई छोटा सा कारण भी अविश्वास उत्पन्न कर सकता है.