अर्बुदा देवी मन्दिर | Arbuda Devi Temple | Arbuda Devi Mandir | Arbuda Devi

राजस्थान के सिरोही जिले में स्थित नीलगिरि की पहाड़ियों की सबसे ऊँची चोटी पर बसे माउंट आबू पर्वत पर स्थित अर्बुदा देवी का प्राचीन मंदिर. यह मंदिर माता के प्रमुख शक्ति स्थलों में गिना जाता है. यह देवी यहाँ की अराध्य देवी हैं मां अबुर्दा देवी को यहां पर अधर देवी, अम्बिका देवी के नाम से पुकारा जाता है. अबुर्दा माता का मंदिर एक प्राकृतिक गुफा के रुप में निर्मित है, जहां माता की जोत निरंतर जलती रहती है जहां माता के दर्शन हो पाते हैं.

इस धार्मिक स्थल के पास ही मन्दाकिनी नदी बहती है और अन्य तीर्थ हैं भी हैं. मंदिर तक पहुंचने के लिए सीढ़ियों का रास्ता है इस मार्ग से गुजरते हुए अनेक मनोहर दृश्य दिखाई पड़ते हैं जो भक्तों एवं सैलानियों के हृदय पर एक अमिट छाप छोड़ते हैं. यहाँ के नयनाभिराम दृश्य औरभक्ति का माहौल मन मोह लेता है.

अर्बुदा देवी मन्दिर पौराणिक संदर्भ | Mythological References of Arbuda Devi Temple

इस स्थान का विशिष्ट धार्मिक महत्व भी है जिसके अनुसार अर्बुद नामक सांप के नाम पर इसका नाम अर्बुदा पडा़. ऋषि वशिष्ठ ने अर्बुदा को वरदान दिया था कि तुम सभी देवी देवताओं के साथ यहां निवास करोगे. मान्यता है कि माता दुर्गा यहां अर्बुदा देवी के रूप में प्रकट हुई, इसलिये इसका नाम अर्बुदा पड गया.

देवी की इस पावन भूमी जहाँ जाकर सभी मनुष्य माता का सानिध्य प्राप्त करते हैं. यह एक ऐसा पवित्र स्थल जहाँ देवी कि महिमा देखने को मिलती है. जहाँ का पौराणिक इतिहास धार्मिक संदर्भ में बहुमूल्य है ऐसा स्थान जहाँ से विभिन्न धार्मिक उल्लेख प्राप्त होते हैं और जहाँ जाकर भक्त एक सुखद अनुभूति को प्राप्त करता है. इस स्थान से जुड़ा है यह ऐसा ही पवित्र धाम जो देवी के प्रमुख मंदिरों में अपना विशेष स्थान रखता है.

अबुर्दा देवी का यह मंदिर भारत के प्रमुख शक्ति मंदिरों में से एक है जहां आकर सभी श्रद्धालु अपनी समस्त चिंताओं से मुक्त हो माँ की शरण प्राप्त करता है. मंदिर में देवी की एक झलक पाने के लिए भारी भीड़ जमा होती है. माँ के दर्शनों को पाकर भक्त कृतार्थ हो जाता है तथा माँ के आशीर्वाद को ग्रहण करता है जिससे उसके सभी दुख व चिंताएं दूर हो जाती हैं.

अर्बुदा देवी मन्दिर महत्व | Significance of Arbuda Devi Temple

यह मंदिर मांउट आबू के प्रमुख पवित्र दर्शनीय स्थलों में से एक है. यहां का सौंदर्य इस बात से और भी निखर जाता है ओर बरबस ही लोग यहाँ खिंचे चले आते हैं. मंदिर का अनुपम सौंदर्य सभी को अपनी ओर आकर्षित करता है जिस कारण हर व्यक्ति एक न एक बार तो इस मंदिर में आने की इच्छा रखता ही है. माँ के दर्शनों को पाकर श्रद्धालु अपनी सभी कष्टों को भूल जाते हैं व हर चिंता तथा संकट से मुक्त हो जाते हैं .

यहाँ चैत्र पूर्णिमा तथा विजयादशमी के अवसरों पर धार्मिक मेलों का आयोजन होता हैं जिसमें देश विदेश के अनेक लोग भाग लेने के लिए आते हैं. माँ के दरबार में हर समय माता की ज्योत प्रज्जवलित रहती है जो भक्तों में एक नयी ऊर्जा शक्ति का संचार करती है जिससे भक्तों में धार्मिक अनुभूति जागृत होती है तथा जीवन की कठिनाइयों से पार पाने की क्षमता आती है. यहां आने वाला भक्त जीवन के इन सबसे सुखद पलों को कभी भी नहीं भूल पाता और उसके मन में इस स्थान की सुखद अनुभूति हमेशा के लिए अपनी अमिट छाप छोड़ जाती है.


Categories:

Comment(s): 20:

  • Raingaram Khangarji Choudhary Kag Amlari on 10 May, 2013 21:30:07 PM
    Jai Maa Sabko sadbudi De Maa Or Maa Sabki KaTHINAI avm Sabka Dukh Nivaran Kare

    Jai Mata Di
    Jai Maa Arbuda Amba Shakti

    Reply
  • Babula Ghanchi on 14 October, 2013 20:32:50 PM
    Jai Arbuda Mata Di
    Reply
  • Sunil Dhandiya on 10 October, 2014 03:57:37 AM
    Jai Arbuda Mata Di
    Reply
  • chatara ram g choudhary harni amrapuraa on 26 December, 2014 11:32:44 AM
    Jai. Arbuda mata di
    Reply
  • chatara ram g choudhary harni amrapuraa on 26 December, 2014 11:32:47 AM
    Jai. Arbuda mata di
    Reply
  • satish g choudhary harni amrapura on 26 December, 2014 11:38:54 AM
    Jai. Arbuda mata di
    Reply
  • satish g choudhary harni amrapura on 26 December, 2014 13:08:49 PM
    Jai. Arbuda mata di
    Reply
  • CHAITANYA CHAUDHARI on 25 January, 2015 03:52:40 AM
    JAI MAA KULDEVI ARBUDA
    Reply
  • jitendra kumar aanjana on 09 March, 2015 08:49:57 AM
    अबुर्दा देवी का यह मंदिर भारत के प्रमुख शक्ति मंदिरों में से एक है जहां आकर सभी श्रद्धालु अपनी समस्त चिंताओं से मुक्त हो माँ की शरण प्राप्त करता है. मंदिर में देवी की एक झलक पाने के लिए भारी भीड़ जमा होती है. माँ के दर्शनों को पाकर भक्त कृतार्थ हो जाता है तथा माँ के आशीर्वाद को ग्रहण करता है जिससे उसके सभी दुख व चिंताएं दूर हो जाती हैं.
    Reply
  • poonam chand on 21 March, 2015 11:02:50 AM
    Jai arbuda matha dii
    Reply
  • gotam lal gamdi ahada on 19 May, 2015 01:54:14 AM
    Jai arbuda matha dii
    Reply
  • VENARAM MALARAM PARMAR on 08 July, 2015 02:40:00 AM
    JAI ARBUDADEVI MATA RI JAI HO EK PHOTO CHAHIYE
    Reply
  • Nemaram likhmaramji Sankhala on 12 July, 2015 07:16:21 AM
    Jay maa shero wali
    Jay maa jyota wali
    Bolo sache darbar ki jayyyyyyyy
    Reply
  • Ashish mahale on 20 August, 2015 23:56:44 PM
    Jay maa arbhuja kul devi prasan
    Reply
  • surendra kumar on 10 October, 2015 02:03:39 AM
    muje janana he ke mata arbuda ji kya panwar (pawar) goutr ki kulde vi h ?
    Reply
  • जयकिशन on 26 November, 2015 10:10:19 AM
    जय माँ कुलदेवी अर्बुदादेवी
    Reply
  • Chimanlal Heeralal suthar joping on 04 December, 2015 20:40:06 PM
    Jay maa Arbudadevi ki Dukha Dard Durkaroma sukhashanti Dijoma Arbudadevi ki jai Ho
    Reply
  • गौतम दरडा.घोटी.नासिक.(महाराष्ट्र) on 16 January, 2016 20:43:15 PM
    जय अर्बुदा माता.जय कात्यायनी माता की जय.क्षेत्रपाल सोनाना खेतलाडी का दर्शन लिये बगैर माता का दर्शन पुरा नही होता.सिरोही से नजदिक देसुरी गाव के पास यह स्थान है.
    Reply
  • गौतम दरडा.घोटी.नासिक.(महाराष्ट्र) on 16 January, 2016 20:45:16 PM
    जय अर्बुदा माता.जय कात्यायनी माता की जय.क्षेत्रपाल सोनाना खेतलाडी का दर्शन लिये बगैर माता का दर्शन पुरा नही होता.सिरोही से नजदिक देसुरी गाव के पास यह स्थान है.
    Reply
  • Bharat Kumar panwar on 29 January, 2016 14:15:41 PM
    Jai arbuda mata
    Reply

Leave a comment


(Will not be shown)
(Optional)