Category list

Tag cloud

Posts for Tag Mukhya Rekha

Following is the list of Articles in the tag Mukhya Rekha

  • 1

हृदय रेखा के विभिन्न पदों के प्रतिनिधित्व | Representations of Various Positions of Hardy Rekha

हृदय रेखा की स्थिति व्यक्ति के भीतर मौजूद रोमांटिक संभावनाओं को निर्धारित करने में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। इस रेखा कि विभिन्न प्रकार की स्थिति द्वारा विपरीत लिंगों के बीच आकर्षण, प्रेम, रोमांटिक जीवन की..

आकृति के आधार पर हृदय रेखा का प्रतिनिधित्व | Representations of Hriday Rekha (Heart line) on the basis of Shape

ह्र्दय रेखा का आरंभ तर्जनी उंगली के नीचे हथेली को पार करता हुआ कनिष्ठा पर समाप्त होता है। यह रेखा जीवनरेखा और मस्तिष्क रेखा के ऊपर हथेली के शीर्ष पर स्थित है। यह रोमांटिक संभावनाओं, विपरीत लिंग के मध्य आकर्षण ,भावनात्मक..

हाथ की मुख्य रेखाएं | Study of Lines in Hastrekha (Palmistry)

हस्तरेखा शास्त्र में हथेली की रेखाओं का विशेष महत्व है। इसमे सम्मलित लक्षण जैसे क्रास, सितारे, वर्गों और अर्धचन्द्राकार का अध्ययन हथेली द्वारा किया जाता है। यह रेखाएं व्यक्ति का भविष्य, शुभ संकेत और अशुभ संकेत दर्शाती..

जीवन रेखा के विभिन्न पदों का विश्लेषण | Representations of Various Positions of Jeevan Rekha – Jeevan Rekha

जीवन रेखा बहुत हद तक भाग्य को प्रभावित करती है। जीवन रेखा, दूसरी रेखाओं पर भी अपना प्रभाव डालती है। यदि सभी रेखाओं का आरंभ जीवन रेखा से हो तो व्यक्ति के लाभ और उपलब्धि को बढाता है। लेकिन यह एक अपवाद है। जब जीवन रेखा,..

मस्तिष्क रेखा की विभिन्न स्थितियाँ | Representations of Various Positions of Head Line - Line of Head

मस्तष्कि रेखा की स्थिति व्यक्ति की बुद्धिमत्ता, सीखने की प्रवृत्ति, विशिष्ट विधा की दिशा को दर्शाती है तथा व्यक्ति की, बुद्धि और मन के निर्धारण मे महत्वपूर्ण भूमिका को व्यक्त करत है। इस रेखा का आरंभ तीन भिन्न स्थानों से..

मस्तिष्क रेखा | Head Line in Palmistry - Palmistry Reading Head Line - Benefits of Head Line in Palmistry

मस्तिष्क रेखा तर्जनी अंगुली नीचे से आरंभ होती है और यहां से निकलते हुए हथेली पर रुकती है. यह अकसर जीवन रेखा को आरंभ में छूती है. यह रेखा मुख्य रुप से व्यक्ति की मानसिक स्थिति को दर्शाती है। यह रेखा उन कारणों को भी बताती..

आकार के आधार पर जीवन रेखा | Representations of Jeevan Rekha based on Shape - Jeevan Rekha

जीवन रेखा का उदगम शुक्र पर्वत से आरंभ हो कर हथेली के नीचे जाते हुये शुक्र पर्वत को घेरता है। यह रेखा हाथ की सबसे महत्वपूर्ण और विवादास्पद रेखा है। यह रेखा हथेली के अंत तक जाती हुई शुक्र पर्वत पर एक चाप की आकार लिये होती..

भाग्य रेखा के विभिन्न स्थानों का अभिवेदन | Representations of Various Positions of Bhagya Rekha

भाग्य रेखा की स्थिति किस्मत संबंधित निर्णयों का निर्धारण करने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। भाग्य रेखा की स्थिति से ज्ञात होता है कि व्यक्ति शिक्षा संबंधित क्या फैसला करेगा, कौन सा क्षेत्र चुनेगा, और किन बाधाओ का..

भाग्य रेखा | Representations of Various Shape of Bhagya Rekha

भाग्य रेखा को किस्मत की रेखा के रूप में भी जाना जाता है । यह हथेली के केंद्र मे स्थित होती है , इस रेखा का उदगम कलाई से, चंद्र पर्वत से, जीवन रेखा से, मस्तिष्क रेखा या ह्रदय रेखा से होता है । इस रेखा द्वारा उन सभी..

सूर्य की रेखा - ख्याति, सफलता और प्रतिभा का प्रतीक | Surya Rekha - A symbol of Fame, Success and Brilliance

सूर्य की रेखा को अपोलो रेखा, सफलता रेखा या प्रतिभा रेखा से भी जाना जा सकता है एवं यह हाथ के आकार पर निर्भर करता है । सूर्य रेखा द्वारा व्यक्ति के जीवन में ख्याति, सफलता और प्रतिभा की भविष्यवाणी की जा सकती है। सूर्य रेखा..

मस्तिष्क रेखा एवम् मानसिक विकृति | Insanity as Represented by the Head Line

मस्तिष्क रेखा का आकार और उसका स्थान निर्धारित करता है कि व्यक्ति का मानसिक स्तर सामान्य है या असामान्य। यदि मस्तिष्क रेखा चन्द्र पर्वत पर मिलती हो तो जातक की कल्पना असामान्य या अप्राकृतिक होती है। यदि मस्तिष्क रेखा एक..
  • 1