भाग्यांक 9 | What is the Impact of Bhagyank 9 on Your Life

भाग्यांक, संयुक्त रूप से अंकों को जोड़ कर प्राप्त किया जाता है. भाग्यांक में जन्म तिथि, जन्म माह तथा जन्म वर्ष का योग(जोड़) करना होता है और जो योग प्राप्त होता है वही भाग्यांक कहलाता है जैसे किसी व्यक्ति का जन्म 6 जून 1959 है तो उस व्यक्ति का भाग्यांक इस प्रकार ज्ञात करेंगे -  जन्म तारीख + जन्म माह + जन्म साल = भाग्यांक

जन्म तारीख  = 6

जन्म माह      = 6

जन्म साल     = 1959

6 + 6 + 1 + 9 + 5 + 9 = 36

3 + 6 = 9

इस प्रकार इस व्यक्ति का भाग्यांक 9 होगा.

भाग्यांक 9 का स्वभाव और गुण | Behaviour and Qualities of Bhagyank 9

भाग्यांक 9 वाले लोगों में नेतृत्व करने तथा संगठन करने के विशेष गुण विद्यमान होता हैं. भाग्यांक 9 वाले व्यक्तियों में समर्पण का भाव देखा जा सकता है. यह कोमल हृदय के होने के कारण दूसरों की मदद करने वाले होते हैं. भाग्यांक 9 वालों की मित्र संख्या भी अच्छी ख़ासी होती है. जो भी लोग इनके संपर्क में आते हैं वह इनसे दूर नहीं हो पाते और इनसे जुड़ा हुआ महसूस करते हैं.

भाग्यांक नौ वालों में गुस्सा भी बहुत होता है मंगल के प्रभाव स्वरूप इनके अंदर ओज भी देखा जा सकता है इन लोगों में साहस और जोखिम उठाने की शक्ति होती है. भाग्यांक 9 वाले रंगीन मिज़ाज के विलासी और शौकीन हो सकते हैं. भाग्यांक 9 वालों में निरंतर आगे बढ़ने और प्रगति करने की इच्छा रहती है अत: आप लोग अपने कार्यों को बिना रुके करने का प्रयास करते हैं

भाग्यांक 9 वाले अपने प्रत्येक काम को समय के अनुसार समाप्त करने में विश्वास रखते हैं. अपने उत्तरदायित्व को उचित प्रकार से निर्वाह करने का प्रयत्न करते हैं तथा इस प्रकार यह लोग सफलता प्राप्त करते हैं. धनार्जन करने में यह सफल होते हैं.

भाग्यांक 9 वालों में सौंदर्य के प्रति लगाव देखा जा सकता है. इन्हें साज- सजावट बहुत पसंद आती है. यह लोग अपनी मेहनत द्वारा ऊँचे पदों को प्राप्त करते हैं. साधारण होते हुए भी यह लोग अपनी मेहनत के बल पर उच्च मुकाम हासिल कर लेते हैं. भाग्यांक 9 वाले संकटों से घबराते नहीं तथा साहस से कार्य कर उन संकटों को दूर कर देते हैं.

नकारात्मक लक्षण | Negative Qualities of Bhagyank 9

भाग्यांक 9 वालों को क्रोध जल्दी आता है, इसलिए कई बार इन्हें नुकसान भी उठाना पड़ जाता है अत: अपने क्रोध पर नियंत्रण करने की आवश्यकता है. भाग्यांक 9 वाले जातक स्वतंत्र विचार वाले होते हैं. इसलिए किसी के अधीन कार्य करना‌ इन्हें पसंद नहीं आता इस कारण लोग इन्हें शत्रु एवं अहंकारी भी समझ बैठते हैं. भाग्यांक 9 वालों के पास कुछ न हो परन्तु फिर भी आप शान-शौकत से ही रहना पसंद करते हैं आप इधर की बात उधर न करें

भाग्यांक 9 वालों को अपना विरोध पसंद नही आता अपनी आलोचना पर उत्तेजित हो जाते हैं. अपने को श्रेष्ठ साबित करने के लिए तत्पर रहते हैं इस कारण यह लोगों से नाराज़ भी हो जाते हैं अत: अपनी इस कमी को दूर करने का प्रयास करें . भाग्यांक 9 वाले कठोर होते हैं किंतु मन से उदार भाव के होते हैं . भाग्यांक नौ वाले व्यक्ति प्रतिभाशाली होते हैं तथा इनके समक्ष कोई भी व्यक्ति बोलने का साहस नहीं कर पाते.

Categories: