भाग्यांक 7 | What is the Impact of Bhagyank 7 on Your Life

भाग्यांक जानने के लिये, भाग्यांक में जन्म तिथि, जन्म माह तथा जन्म वर्ष का योग(जोड़) करना होता है, तथा जो योग प्राप्त होता है वही भाग्यांक कहलाता है, जैसे किसी व्यक्ति का जन्म 6 अप्रैल 1959 है तो उस व्यक्ति का भाग्यांक इस प्रकार ज्ञात करेंगे -  जन्म तारीख + जन्म माह + जन्म साल = भाग्यांक

जन्म तिथि, जन्म माह तथा जन्म वर्ष की आवश्यकता होती है. भाग्याँक  को संयुक्त रूप से अंकों को जोड़ कर प्राप्त किया जाता है. जन्म तारीख  = 6

जन्म माह      = 4

जन्म साल     = 1959

6 + 4 + 1 + 9 + 5 + 9 = 34

3 + 4 = 7

इस प्रकार इस जातक का भाग्यांक 7 होगा.

भाग्यांक 7 स्वभाव एवं गुण | Behaviour and Qualities of Bhagyank 7

भाग्यांक 7 एक महत्वपूर्ण अंक है. इस अंक को रहस्यात्मक अंक भी कहा जाता है. इसलिए इस अंक के जातक रहस्यात्मक क्रियाओं को लिए होते हैं. इस अंक के जातक कुशल तार्किक, स्पष्टवादी होते हैं, भाग्यांक सात के व्यक्तियों में अद्वितीयता की छाप देखी जा सकती है. इनकी विशेषता इन्हें भीड़ से अलग करती है और यह लोगों के मन में अपनी एक अलग छाप छोड़ते हैं.

भाग्यांक 7 अपना अलग अस्तित्व बनाने का प्रयास करते हैं. भाग्यांक सात के व्यक्तियों में बेजोड़ विषय का सामंजस्य देखा जा सकता है अर्थात दो अलग बातों में एकरसता का होना इसलिए भाग्यांक 7 वाले जातक रहस्य पूर्ण लगते हैं.

भाग्यांक 7 वालों में निर्णय लेने की अच्छी समझ होती है. भाग्यांक सात उसी कार्य को करने का प्रयास करता है जो उसके लिए लाभकारी और हितकारी हो सके भाग्यांक 7 वाला व्यक्ति विचारशील, सतर्क एवं बुद्धिमान होता है. यह लोग प्राय: अपनी ही धुन में मस्त रहते हैं. किसी भी कार्य को भली प्रकार से करने का प्रयत्न करते हैं उसे पूर्ण करने का सोचते हैं तथा अधिकतर इसमें सफल भी होते हैं.

भाग्यांक 7 का झुकाव रहस्यमय और गूढ़ विद्याओं की ओर स्वभाविक ही देखा जा सकता है. जीवने के प्रति इनका अपना नज़रिया होता है. धर्म संबंधी मामलों में में इन्हें आडंबर पसंद नहीं है यह धर्म को लाग लपेट से दूर रखते हैं. अपने कार्यों द्वारा वह धर्म को प्रगती के मार्ग पर चलाने का प्रयास भी करते हैं.

भाग्यांक सात वालों का स्वभाव अलग तो होता है साथ ही इन्हें अपने ज्ञान को विकसित करने के लिए एकांत की आवश्यकता होती है. भाग्यांक सात वाले अधिक घुलना मिलना पसंद नही करते यह लोग ज्यादा दोस्त नहीं बनाते और जल्दी से किसी के साथ घुलते मिलते नही. भाग्यांक 7 वालों में गूढ़ प्रकृति, अंतर्मुखी होना तथा आध्यात्मिक होने के गुण देखे जा सकते हैं.

भाग्यांक 7 वाले जातकों को अपने कार्य में दूसरों का हस्तक्षेप पसंद नही आता अपनी इच्छा के विपरीत किसी अन्य की राय इन्हें पसंद नही होती. भाग्यांक 7 अपने कार्यों को स्वयं सोच विचार कर करने कि चाह रखता है. इन्हें भविष्य के लिए शंकालु भी देखा जा सकता है.

भाग्यांक 7 वालों को समझने में काफी कठिनता आती है. ये जातक स्वतंत्रता की चाह रखते हैं तथा समाजिक व आर्थिक रूप से स्वयं पर निर्भर रहते हैं. भाग्यांक सात वालों पर कोई अगर कोई परंपरा हावी होने लगती है तो उसे तोड़ने में यह देरी नहीं करते.

नकारात्मक लक्षण | Negative Qualities of Bhagyank 7

भाग्यांक 7 जल्द ही किसी पर विश्वास नही करता. लोगों के साथ संबंध न बना पाने के कारण भाग्यांक 7 वाले लोग एकांत प्रिय तथा इस कारण यह आत्मकेंद्रित और अंतर्मुखी बन सकते हैं और असहिष्णु हो सकते हैं. बहुत भाग्यांक 7 कर्मशील, स्फूर्तिवान तथा आकर्षण से युक्त होते हैं और इनकी भावुकता इन्हें परेशान कर सकती है व कभी-कभी यह अपना नियंत्रण खो सकते हैं और परिणाम को सोचे बगैर कार्य करने लगते हैं. आपकी प्रकृति बहुत गहरी होती है और आप सोचने के बाद ही उस कार्य को करने का प्रयास करते हैं. भाग्यांक 7 वही कार्य करने का प्रयास करते हैं जिसमें इन्हें लाभ प्राप्त हो सके.

Categories: