रुद्राक्ष धारण करने से मिलती है कर्ज से मुक्ति | Wearing Rudraksh relieves you from debts

आर्थिक रुप से कमजोर एवं कर्ज के कारण परेशान होने से बचने के लिए रुद्राक्ष धारण करना या नित्य इसका पूजन करना बेहद लाभकारी होता है. ऐसे में कौन सा रुद्राक्ष हमे आर्थिक रूप से संपन्न बना सकता है और किस से हमे जीवन में कर्जों एवं उधार से मुक्ति मिल सकती है यह जानना भी अत्यंत आवश्यक होता है. वैसे सभी रुद्राक्ष स्वयं में कुछ न कुछ ऐसी विशेषताओं से पूर्ण होता ही अत: किसे कब धारण करना कब फ़ायदेमंद होगा. यदि यह पता हो तो असानुरूप परिणाम जल्द प्राप्त होते हैं.

इक्कीस मुखी रूद्राक्ष देगा धन संपन्नता

इक्कीस मुखी रूद्राक्ष को आर्थिक लाभ के लिए बहुत ही उपयोगी माना जाता है. इसके अधिपत्य में कुबेर देवता आते हैं. कुबेर अर्थात अपार धन संपदा के स्वामी. यह इक्कीस मुखी रुद्राक्ष सभी रुद्राक्षों में एक बेहतरीन रुद्राक्ष होता है. वेसे इस रुद्राक्ष की प्राप्ति भी कठिन ही मानी जाती है. त्रिदेवों का इस में निवास माना जाता है.

अगर आप किसी पुराने कर्जे से या बैंक लोन को नहीं चुका पा रहे हैं और वह जस का तस ही बना हुआ है तो आपके लिए 21 मुखी रुद्राक्ष एक शुभत्व का प्रभाव देने वाला होगा. इसके द्वारा आपके लिए नए मार्ग प्रशस्त होंगे.

आपको कुछ नए काम मिलेंगे जिनसे आप अपनी इस कर्ज और उधारी को किसी न किसी प्रकार दूर कर पाएंगे. 21 मुखी रुद्राक्ष को ऊर्जा का प्रवाह माना जाता है. ऐसे में जब आपके पास ऐसी सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह होता रहेगा तो समस्याओं में धीरे धीरे कुछ कमी अवश्य आएगी.

सकारात्मक ऊर्जा देता है

रुद्राक्ष को बहुत ही महत्वपूर्ण एवं पवित्र माना जाता है. रुद्राक्ष को धारण करने के कई नियम हैं तथा इसके धारण करने में सात्विकता को प्रमुख स्थान दिया जाता है. रुद्राक्ष में पूर्ण रूप से सकारात्मकता एवं ऊर्जा का प्रवाह होता रहा है. ऐसे में रुद्राक्ष को धारण करें अथवा स्वयं के पास रखें यह आपको बहुत लाभ देने वाला होता है. यह रुद्राक्ष अंधकार में प्रकाश देने जैसा है.

घर पर इसकी स्थापना होने से देवताओं का आशीर्वाद प्राप्त होता है. व्यक्ति को अपने कष्टों से मुक्ति भी मिलती है, इस रुद्राक्ष को घर में रखने से शांति एवं सदभाव का वातावरण उत्पन्न होता है. यदि किसी प्रकार की नकारात्मकता घर पर हो तो वह दूर हो जाती है. यह रुद्राक्ष अपार समृद्धि लेकर आता है.

रुद्राक्ष को धारण कैसे करें

वैसे तो इस रुद्राक्ष की प्राप्ति बहुत मुश्किल से होती है. क्योंकि कुछ ऐसे रुद्राक्ष जल्दी से प्राप्त नहीं होते हैं. लेकिन अगर आपको इसकी प्राप्ति होती है तो शिव पंचाक्षरी मंत्र का जाप करके इसे धारण करें. रूद्राक्ष सोमवार को सोने चांदी या लाल धागे में पिरोकर धारण कर सकते हैं.

Categories: