Customised Vedic Jyotish Reports

Premium Reports

Vedic Astrology Reports

राशिफल मेष राशि अगस्त 2016 - Hindi Rashifal for Mesha Rashi for August 2016

Monthly Horoscope for Aries August 2016

मेष राशि के लिए अगस्त 2016

इस माह के दौरान परिवार में आपके निर्णयों के प्रति दूसरों की सहमती जल्दी से न मिल सके. आपके मन में आर्थिक स्थिति को लेकर बहुत से सोच विचार होंगे जिसमें आपनी बचत को इस समय खर्च करने के पक्ष में न हों. वैसे इस माह के दौरान खर्चे अधिक न हों लेकिन धनार्जन में कमी की स्थिति परेशानी वाली रह सकती है.

माह मध्य के बाद से संतान पक्ष को लेकर आपका ध्यान अधिक केन्द्रित रह सकता है, उनकी शिक्षा एवं खान पान को लेकर कुछ अधिक व्यय बढ़ सकता है. बच्चों के स्वास्थ्य के प्रति भी आपकी जिमेदारी बढ़ने वाली है. अधिकांश ग्रहों के राहु केतु के मध्य स्थिति होना तनाव को दर्शाने वाला दिखाई देता है.

मेष राशि के लिए अगस्त 2016 में कैरियर

काम काज को लेकर आपको अधिक सतर्क रहने की आवश्यकता है. आप अपने छोटे से छोटे काम को लेकर कुछ ज्यादा सतर्क रहें तो अच्छा होगा. अभी अपने काम को दूसरों पर न डालें. आपके कार्य में बदलाव की स्थिति माह मध्य के बाद से अधिक दिखाई देती है इस दौरान गुरू की स्थिति में बदलाव हो रहा है.

ऎसे में आपके स्वभाव में कुछ अधिक आतुरता और जल्दबाजी बढ़ सकती है. अटकाव की स्थिति भी परेशानी का सबब बन सकती है. कारोबार से जुड़े लोगों के पास नए काम तो आएंगे लेकिन आर्थिक क्षेत्र में लाभ कम ही दिखाई देते है.

मेष राशि के विद्यार्थियों के लिए अगस्त 2016

छात्रों के लिए समय थोडा़ असमंजस से भरा रहने वाला दिखाई देता है. कुछ ऎसे मौके होंगे जिसमें वे अपने प्रतिभा को पूरी तरह से दिखा न पाएं, साथ ही कुछ असफलता भी हाथ लग सकती है. आपको सही से मार्गदर्शन मिल सके. इस समय आपको थोडा़ धैर्य रखने की आवश्यकता है. माह मध्य के बाद से परिवर्तन दिखाई देंगे.

मेष राशि के लिए अगस्त 2016 में स्वास्थ्य

सेहत को लेकर सचेत रहें, चिंताओं में कमी नही होने वाली और व्यर्थ की भागदौड़ परेशानी ही देने वाली है. इस कारण खर्च भी बढ़ेगा. छोटे बच्चों के स्वास्थ पर प्रतिकूल असर दिखाई देता है. त्वचा से संबंधित रोग परेशान करने वाले हैं. इसलिए साफ सफाई के प्रति अधिक सतर्क रहें तो बेहतर होगा. माह मध्य के बाद अचानक से कोई रोग परेशान कर सकता है.

मेष राशि के लिए अगस्त 2016 में परिवार

घरेलू मुद्दों पर आपकी अधिक महत्ता न रहे या आपको प्रमुखता न दी जाए, ऎसे में स्वयं को प्रति असंतोष भी उत्पन्न होगा. पिता या किसी वरिष्ठ के साथ संबंधों में तनाव उभर सकता है. छोटी छोटी बातों को लेकर आप अधिक उग्र भी हो सकते हैं, अपने क्रोध को नियंत्रण में रखें अन्यथा विवाद बढा सकता है.

बच्चों के कारण भी चिंता अधिक रह सकती है. अभिभावकों को चाहिए कि उन पर नज़र बनाए रखें. घर का कोई सदस्य नशे की लत या बुरी संगती में भी घिर सकता है. आप अपनी वाणी और सोच में सकारात्मकता को लाएं क्योंकि इस दौरान वाणी और बुद्धि का स्वामी पीडीत है जिसके कारण आप सही निर्णय न ले सकें.

मेष राशि के लिए अगस्त 2016 में उपाय

इस दौरान आपको नव ग्रह स्त्रोत का पाठ नित्य करना चाहिए.

अगस्त माह के मुख्य व्रत तथा त्यौहार

  • 1 अगस्त 2016, दिन सोमवार, मासशिवरात्रि व्रत
  • 2 अगस्त 2016, दिन मंगलवार, हरियाली (भौमवती) अमावस
  • 3 अगस्त 2016, दिन बुधवार, श्रावण शुक्ल पक्ष आरंभ, मेला छिन्नमस्तिका
  • 5 अगस्त 2016, दिन शुक्रवार, मधुस्त्रवा हरियाली सिंधारा तीज
  • 6 अगस्त 2016, दिन शनिवार, दुर्वा गणपति व्रत, वरद चतुर्थी
  • 7 अगस्त 2016, दिन रविवार, नाग पंचमी
  • 8 अगस्त 2016, दिन सोमवार,श्री कल्कि जयंती
  • 10 अगस्त 2016, दिन बुधवार, गोस्वामी तुलसीदास जयंती
  • 11 अगस्त 2016, दिन बृहस्पतिवार, श्री दुर्गाष्टमी, मेला चिन्तपूर्णी(हिमाचल प्रदेश) समाप्त
  • 15 अगस्त 2016, दिन सोमवार, सोम प्रदोष व्रत
  • 17 अगस्त 2016, दिन बुधवार, ऋग्वेदि उपाकर्म, श्री सत्यनारायण व्रत
  • 18 अगस्त 2016, दिन बृहस्पतिवार, श्रावण पूर्णिमा, रक्षा बंधन
  • 20 अगस्त 2016, दिन शनिवार, कज्जली तृतीया
  • 21 अगस्त 2016, दिन रविवार, श्री गणेश चतुर्थी
  • 23 अगस्त 2016, दिन मंगलवार, चंदन षष्ठी व्रत, हल षष्ठी
  • 24 अगस्त 2016, दिन बुधवार, शीतला सप्तमी, श्रीकृष्ण जन्माष्टमी व्रत (स्मार्त)
  • 25 अगस्त 2016, दिन बृहस्पतिवार, श्रीकृष्ण जन्माष्टमी व्रत(वैष्णव), गोकुलाष्टमी, नन्दोस्त्व, दुर्वाष्टमी व्रत
  • 26 अगस्त 2016, दिन शुक्रवार, श्रीगुग्गा नवमी
  • 28 अगस्त 2016, दिन रविवार, अजा एकादशी व्रत
  • 29 अगस्त 2016, दिन सोमवार, वत्स द्वादशी पूजा

अगस्त माह में ग्रहों की स्थिति

  • माह मध्य भाग तक सूर्य कर्क राशि में गोचर करेंगे. उसके पश्चात 16 अगस्त 2016 में 18:39 पर सिंह राशि में प्रवेश करेंगे.
  • मंगल पूरे माह के दौरान वृश्चिक राशि में गोचर करेंगे.
  • बुध माह आरंभ में सिंह राशि में गोचरस्थ रहेंगे. उसके बाद 19 अगस्त 17:24 पर कन्या राशि में प्रवेश करेंगे. उसके पश्चात 30 अगस्त को 18:31 मिनिट पर कन्या राशि में ही वक्री होकर गोचर करेंगे.
  • शुक्र माह के मध्य भाग तक सिंह राशि में गोचरस्थ रहेंगे, उसके पश्चात 25 अगस्त को 11:53 मिनिट पर कन्या राशि में प्रवेश करते हुए गोचरस्थ होंगे.
  • बृहस्पति 11 अगस्त 2016 को 21:25 मिनिट पर कन्या राशि में प्रवेश करते हुए गोचर करेंगे.
  • शनि 13 अगस्त 2016 को 15:10 पर मार्गी होकर वृश्चिक राशि में गोचरस्थ रहेंगे.
  • राहु सिंह राशि में गोचरस्थ रहेंगे.
  • केतु कुम्भ राशि में गोचरस्थ रहेंगे.

Comment(s) on this article


There no comments yet. Be the first to leave one.

Leave Your Comment


Name
Email
Website
Comment
Free Vedic Jyotish

Free Reports

Free Vedic Astrology

All content on this site is copyrighted.


Do not copy any content without permission. Violations will attract strict legal penalties.