Articles in Category Transit

कैसे बनता है यमघंटक योग | How does ‘Yamghantak Yoga’ appear ?

कुछ अशुभ योगों की गिनती में यमघंटक योग का नाम भी आता है. यह वह योग है जो अच्छे कार्यों में त्याज्य होता है. इस योग में व्यक्ति के किए गए शुभ कार्यों में असफलता की संभावना बढ़ जाती है. ज्योतिष में

2018 में वक्री गुरू का राशियों पर प्रभाव । Retrograde Jupiter's effect on Signs in 2018

इस वर्ष 9 मार्च 2018 को 10:15 पर बृहस्पति तुला राशि में वक्री होकर गोचर करेंगे. बृहस्पति का वक्री होना अचानक से होने वाले बदलावों और जीवन की परिस्थितियों में आने वाले उतार-चढा़वों को दर्शाने वाला

2018 में मंगल शनि युति का प्रभाव | Effect Of Mars - Saturn Conjunction In 2018

इस वर्ष 7 मार्च 2018 को मंगल 18:27 पर अपनी वृश्चिक राशि को छोड़कर धनु राशि में प्रवेश करेंगे. धनु में पहले से ही शनि महाराज का गोचर हो रहा है ऐसे में मंगल का शनि के साथ युति संबंध अचानक से होने वाले

2018 में ग्रहों की वक्री और मार्गी स्थितियां | Retrograde and Directional State of Planets in 2018

मंगल 2018 | Mars 2018 मंगल 16 जनवरी 2018 में वृश्चिक राशि में 29:10 पर प्रवेश करेंगे. मंगल 7 मार्च 2018 को धनु राशि में 18:27 पर प्रवेश करेंगे. मंगल 2 मई 2018 को मकर राशि में 16:19 पर प्रवेश करेंगे.

शुभ विवाह मुहुर्त अगस्त 2018 | Shubh Vivah Muhurat August

अगस्त 2018 में निम्न तिथियों में विवाह करना शुभ रहेगा. यहां जन्म राशि से अभिप्राय: चन्द्र स्थित राशि से है. इन विवाह मुहूर्तो में त्रिबल शुद्धि, सूर्य-चन्द्र शुद्धि व गुरु की शुभता का ध्यान रखा गया

गोचर से संबंधित कुछ महत्वपूर्ण तथ्य | Some Important Facts Related to Transit

जन्म कुंडली में किसी घटना के होने में दशाओं के साथ गोचर के ग्रहों की भूमिका भी महत्वपूर्ण होती है. यदि जन्म कुंडली में दशा अनुकूल भावों की चल रही है लेकिन ग्रहों का गोचर अनुकूल नहीं है तब व्यक्ति को

सूर्य के गोचर का जातक पर प्रभाव | Effects of Sun Transit on Natives

कुण्डली में सूर्य गोचर में कैसा फल प्रदान करेंगे इस विषय के बारे में समझने के लिए यह समझना होगा की गोचर में सूर्य कुण्डली के सभी भावों में अलग- अलग फल देते हैं. जन्म कुण्डली में चंद्रमा जिस भाव में
  • 1