प्रदोष व्रत तिथियां 2013 | Pradosh Vrat Dates 2013 | Pradosh Fast 2013 | Pradosh Vrat Calendar 2013

प्रदोष व्रत त्रयोदशी तिथि को रखा जाता है. इस दिन भगवान शंकर की पूजा की जाती है. इस दिन सुबह सवेरे नित्य कर्म से निवृत होकर भगवान भोलेनाथ की पूजा की जाती है. यह व्रत शत्रुओं पर विजय हासिल करने के लिए अच्छा माना गया है.

प्रदोष काल वह समय कहलाता है जिस समय दिन और रात का मिलन होता है. भगवान शिव की पूजा एवं उपवास- व्रत के विशेष काल और दिन रुप में जाना जाने वाला यह प्रदोष काल बहुत ही उत्तम समय होता है. प्रदोष तिथि का बहुत महत्व है, इस समय कि गई भगवान शिव की पूजा से अमोघ फल की प्राप्ति होती है.

इस व्रत को यदि वार के अनुसार किया जाए तो अत्यधिक शुभ फल प्राप्त होते हैं. वार के अनुसार का अर्थ है कि जिस वार को प्रदोष व्रत पड़ता है उसी के अनुसार कथा पढ़नी चाहिए. इससे शुभ फलों में और अधिक वृद्धि होती है. अलग-अलग कामनाओं की पूर्त्ति के लिए वारों के अनुसार प्रदोष व्रत करने से लाभ मिलता है.

प्रदोष काल में की गई पूजा एवं व्रत सभी इच्छाओं की पूर्ति करने वाला माना गया है. इसी प्रकार प्रदोष काल व्रत हर माह के शुक्ल पक्ष एवं कृष्ण पक्ष के तेरहवें दिन या त्रयोदशी तिथि के समय रखा जाता है. कुछ विद्वानों के अनुसार द्वादशी एवं त्रयोदशी की तिथि भी प्रदोष तिथि मानी गई है.

वार के अनुसार प्रदोष व्रत | Pradosh Fast according to days

  • रवि प्रदोष व्रत - आयु वृद्धि तथा अच्छे स्वास्थ्य लाभ के लिए
  • सोम प्रदोष व्रत - अभीष्ट कामना की पूर्त्ति के लिए
  • मंगल प्रदोष व्रत - रोगों से मुक्ति तथा स्वास्थ्य वृद्धि के लिए
  • बुध प्रदोष व्रत - सभी प्रकार की कामनाओं की पूर्त्ति के लिए
  • गुरु प्रदोष व्रत - शत्रुओं के दमन तथा नाश के लिए
  • शुक्र प्रदोष व्रत - सुख-सौभाग्य और जीवनसाथी की समृद्धि के लिए
  • शनि प्रदोष व्रत - पुत्र प्राप्ति के लिए

 

वर्ष 2013 की प्रदोष तिथियाँ | Pradosham Dates for 2012

चन्द्रमास दिनाँक वार
पौष कृष्ण पक्ष 9 जनवरी बुधवार
पौष शुक्ल पक्ष 24 जनवरी बृहस्पतिवार
माघ कृष्ण पक्ष 8 फरवरी शुक्रवार
माघ शुक्ल पक्ष 23 फरवरी शनिवार
फाल्गुन कृष्ण पक्ष 9 मार्च शनिवार
फाल्गुन शुक्ल पक्ष 24 मार्च रविवार
चैत्र कृष्ण पक्ष 7 अप्रैल रविवार
चैत्र शुक्ल पक्ष (भौम) 23 अप्रैल मंगलवार
वैशाख कृष्ण पक्ष (भौम) 7 मई मंगलवार
वैशाख शुक्ल पक्ष 22 मई बुधवार
ज्येष्ठ कृष्ण पक्ष 5 जून बुधवार
ज्येष्ठ शुक्ल पक्ष 21 जून शुक्रवार
आषाढ़ कृष्ण पक्ष 5 जुलाई शुक्रवार
आषाढ़ शुक्ल पक्ष 20 जुलाई शनिवार
श्रावण कृष्ण पक्ष 4 अगस्त रविवार
श्रावण शुक्ल पक्ष 18 अगस्त रविवार
भाद्रपद कृष्ण (सोम) 2 सितंबर सोमवार
भाद्रपद शुक्ल (भौम) 17 सितंबर मंगलवार
आश्विन कृष्ण पक्ष 2 अक्तूबर बुधवार
आश्विन शुक्ल पक्ष 16 अक्तूबर बुधवार
कार्तिक कृष्ण पक्ष 1 नवम्बर शुक्रवार
कार्तिक शुक्ल पक्ष 15 नवम्बर शुक्रवार
मार्गशीर्ष कृष्ण पक्ष 30 नवम्बर शनिवार
मार्गशीर्ष शुक्ल पक्ष 14 दिसम्बर शनिवार
पौष कृष्ण पक्ष (सोम) 30 दिसंबर सोमवार

 


Categories:

Comment(s): 3:

  • alka sharma on 17 September, 2013 11:58:35 AM
    mujha sirf ya pta karna hai ki pradosh brat ma meeta khate hai ya namak pls reply
    Reply
    • Divya on 09 October, 2013 09:14:37 AM
      Sirf metha khate hain aur agar chahe toh shaam ko proper veg. Meal le sakte hain .
      Reply
  • anita rajput on 10 October, 2013 19:02:59 PM
    I want to start Pradosh vrat, when I can start the fast and what is the procedure to do this fast. I want to start this fast for my husband's good career and his progress. Please suggest.

    Thanks in advance
    Anita Rajput
    Reply
  • Ruchi on 15 November, 2013 13:14:07 PM
    You can start the fast any time . Just visit the temple & ask about the pardosh cuming date & you can start easily.

    Om Namah Shivaya

    Thanks
    Reply

Leave a comment


(Will not be shown)
(Optional)