mars-capricorn-libra sign

ज्योतिष शास्त्र में मंगल को एक नेता का स्थान दिया गया है. 08 जनवरी, 2011 के दिन मंगल राशि परिवर्तन कर अपनी उच्च राशि में प्रवेश करेगें( On 8th January 2011, Mars will enter in its exalted sign). मंगल को स्वभाव से क्रोधी कहा गया है. सामान्यत: मंगल का दृ्ष्टि संबन्ध जिन भी भावों से बनता है. उन भावों से व्यक्ति के संबन्ध खराब होने की संभावना बनती है. 

मंगल का अपनी मित्र राशि धनु से बाहर निकलकर, शनि की मकर राशि में जाना, मंगल को उच्च स्थान देता है. यूं तो शनि-मंगल के शत्रु संबन्ध है, परन्तु मंगल अपने शत्रु की राशि में ही उच्चस्थ होते है. यह स्थिति ठिक उसी प्रकार है, जिस प्रकार किसी सेनापति को सबसे अधिक गौरव तभी प्राप्त होता है, जब वह अपने शत्रु को हराकर उसके किले पर अपनी विजय पताका फहराता है,. 

मंगल को विशेष प्रभावशाली ग्रह माना जाता है. उनका राशि बदलना, सभी राशि के व्यक्तियों के लिये महत्वपूर्ण रहेगा. गोचर की इस अवधि में भचक्र के कुछ अन्य बडे ग्रह भी अपनी स्थिति से विशेष योग बना रहे है. जैसे  कि इस गोचर अवधि में शनि कन्या राशि में और गुरु मीन राशि में होने के कारण कुछ दिनों के लिये समसप्तक योग में रहेगें. यह योग दीर्घकालीन नहीं रहेगा. क्योकि 26 जनवरी के दिन शनि वक्री हो जायेगें. और यह समसप्तक योग भंग हो जायेगा.   

आईये तुला राशि के लिये मंगल का अपनी उच्च राशि में जाना आर्थिक और स्वास्थय के पक्ष से कैसा रहेगा.? यह जानने का प्रयास करते है.  

तुला राशि के व्यक्तियों के कैरियर पर मंगल के मकर राशि में प्रवेश के फल | Impact of Mars in Capricorn Sign on career of Libra  

तुला राशि के व्यक्तियों के लिये मंगल सप्तमेश और द्वितीयेश होते है( For Libra people, Mars is the Lord of second and seventh house). दोनों ही भावों को 'मारकेश' का स्थान दिया गया है. तथा गोचर अवधि में वे, तुला राशि के चतुर्थ भाव पर विचरण करेगें. मंगल की यह स्थिति इस राशि के व्यक्तियों को टीम के कार्यो का नेतृ्त्व करने की योग्यता देगी. साथ ही जो व्यक्ति नौकरी के क्षेत्र में कार्य न करके व्यवसाय और साझेदारी व्यापार कार्यो से जुडे हुए है, उन व्यक्तियों के लिये यह समयावधि विशेष लाभ देकर जायेगी. 

तुला राशि के व्यक्तियों को आय प्राप्ति और आजीविका कार्यो से शहर से बाहर जाना पड सकता है. ठिक इसी समय इनकी नौकरी में बदलाव के भी अल्पकालीन योग बन रहे है. जोखिम और साहस पूर्ण निर्णयों से भी धन में वृ्द्धि होने की संभावना बन रही है. अधिकारियों से विचारों में मतभेद हो सकते है. ऎसे में अधिकारियों की निर्णयों को महत्व देना लाभकारी रहेगा.   

तुला राशि के व्यक्तियों के स्वास्थय पर मंगल के मकर राशि में प्रवेश के फल | Result of Mars in Capricorn on health of Libra people

स्वास्थय वृ्द्धि के योग बने हुए है. परन्तु इस योग को बनाये रखने के लिये आपको भोजन संबधी आदतों पर नियन्त्रण रखना होगा. घर से बाहर भोजन करने से बचें. और जहां तक हो सके अधिक वसा युक्त भोजन करने से स्वास्थय में कमी हो सकती है.  

तुला राशि के व्यक्तियों के प्रेम संबन्ध पर मंगल के मकर राशि में प्रवेश क��� फल | Influence of Mars in Capricorn on Love-Relationship of Libra

मंगल के गोचर की अवधि तुला राशि के व्यक्ति के प्रेम संबन्धों में बाधाएं लेकर आयेंगी. समयावधि में आपके प्रेम संम्बन्ध बनते-बिगडते रहेगें. भावुकता का भाव आपमें अधिक होने के कारण आप इस विषय में व्यवहारिक होकर विचार नहीं कर पायेगें. मंगल का मकर राशि में रहना आपके लिये किसी नई मित्रता के योग बना रहा है. 

तुला राशि के व्यक्तियों के दांम्पत्य जीवन पर मंगल के मकर राशि में प्रवेश के फल | Mars in Capricorn- Effect on Married Life of Libra People 

दांम्पत्य जीवन के लिये यह अवधि स्नेह- और समन्वय की रहेगी. इस अवधि में आपको अपने जीवन साथी का पूरा सहयोग प्राप्त होगा. पारिवारिक सुख-शान्ति के भी सुखद योग बन रहे है. तथा मित्रों के सहयोग से कुछ कार्य पूरे हो सकते है.   

उपाय | Remedies of Effects of Mars in Capricorn on Libra Sign : 

1. श्रद्धानुसार मिट्टी के बर्तन में शहद भरकर किसी विधवा स्त्री को दान में दे. 

2. शुक्रवार के दिन श्रद्धानुसार कन्याओं को मीठा भोजन कराएं.

3. शुक्रवार के दिन अपनी श्रद्धानुसार वजन का चांदी का टुकडा किसी मंदिर में चुपचाप रखकर के आ जाएं.