Articles in Category hindu calendar

निर्जला एकादशी व्रत | Nirjala Ekadashi Fast

हिन्दु माह के दौरान एकादशी तिथि का बहुत महत्व माना जाता है. इसमें भी निर्जला एकादशी को विशेष स्थान प्राप्त है. एकादशी तिथि को भगवान कृष्ण को भी अति प्रिय रहती है. एकादशी तिथि में भगवान कृष्ण का पूजन

दशमी तिथि - हिन्दू कैलेण्डर तिथि | Dashmi Tithi - Hindu Calendar Date | Dashmi Tithi Vaar Yoga | Chandra Tithi

सूर्य अपने अंशों से जब 12 अंश आगे जाता है, तो एक तिथि का निर्माण होता है.  इसके अतिरिक्त सूर्य से चन्द्र जब 109 अंशों से लेकर 120 अंश के मध्य होता है. उस समय चन्द्र मास अनुसार शुक्ल पक्ष की दशमी

माघ माह -12 चन्द्र माह | Magh Month - 12 Moon Month | Hindu Calendar Margashirsha Month

माघ मास में जन्म लेने वाला व्यक्ति विद्वान होता है. ऎसे व्यक्ति को धन-संपति की कोई कमी नहीं होती है. साहसी और जोखिम के कार्य करने में उसे महारत प्राप्त होती है.  उसकी भाषा में कटुता होने की

सावन का पहला सोमवार | First Monday of Sawan Maas | Kanwar Yatra | Importance of Baidyanath Dham in Sawan

सावन माह व्यक्ति को कई प्रकार के संदेश देता है. सावन के माह में आसमान पर हर समय काली घटाएँ छाई रहती हैं. यह घटाएँ जब बरसती है तब गरमी से मनुष्य को राह्त मिलती है. यह माह हमें जीवन की मुश्किल

षष्टी तिथि | Shasti Tithi | Hindu Calendar Date | What is Tithi in Hindu Calender | How is Tithi Calculated

चन्द्र मास के दोनों पक्षों की छठी तिथि षष्टी तिथि कहलाती है. शुक्ल पक्ष में आने वाली तिथि शुक्ल पक्ष की षष्टी तथा कृ्ष्ण पक्ष में आने वाली कृ्ष्ण पक्ष की षष्ठी कहलाती है. षष्ठी तिथि के स्वामी भगवान

आषाढ माह - 12 चन्द्र माह | Ashad Month - 12 Moon Month | 12 Moon Month | Hindu Calendar Ashada Month

आषाढ माह हिन्दू पंचाग का चौथा माह है. आषाढ माह चन्द्र माह है. इस माह की धार्मिक विशेषता इस माह के मध्य में उडीसा राज्य में पुरी की यात्रा का प्रारम्भ है.  इस माह के विषय में प्रसिद्ध एक

पूर्णिमा तिथि -हिन्दू कैलेण्डर तिथि | Purnima Tithi - Hindu Calendar Tithi | Purnima Tithi Importance

जिस व्यक्ति का जन्म पूर्णिमा तिथि में हुआ हो, वह व्यक्ति संपतिवान होता है. उस व्यक्ति में बौद्धिक योग्यता होती है. अपनी बुद्धि के सहयोग से वह अपने सभी कार्य पूर्ण करने में सफल होता है. इसके साथ ही

सप्तमी तिथि | Saptami Tithi - Hindu Calendar Date | Saptami Meaning | How is Tithi Calculated

एक हिन्दू तिथि सूर्य के अपने 12 अंशों से आगे बढने पर सप्तमी तिथि बनती है. सप्तमी तिथि के स्वामी सूर्य देव है. तथा प्रत्येक पक्ष में एक सप्तमी तिथि होती है.  सप्तमी तिथि वार योग | Saptami Tithi

माता वैभव लक्ष्मी व्रत विधि | Mata Vaibhav Lakshmi Vrat Method - Vaibhav Laxmi Fast - Vaibhav Lakshmi Pooja (Mantra) | Vaibhav Lakshmi Vratam

माता लक्ष्मी की कृ्पा पाने के लिये शुक्रवार के दिन माता वैभव लक्ष्मी का व्रत किया जाता है. शुक्रवार के दिन माता संतोषी का व्रत भी किया जाता है. दोनों व्रत एक ही दिनवार में किये जाते है. परन्तु दोनों

तृ्तीया तिथि | Tritiya Tithi | Tritiya Meaning | What is Tithi in Hindu Calender | How is Tithi Calculated

तृ्तीया तिथि की स्वामिनी गौरी तिथि है. इस तिथि में जन्म लेने वाले व्यक्ति का माता गौरी की पूजा करना कल्याणकारी रहता है.  तृ्तीया वार तिथि योग | Tritiya Tithi Yoga तृ्तीया तिथि बुधवार के दिन हो

चतुर्दशी तिथि -हिन्दू कैलेण्डर तिथि | Chaturdashi Tithi - Hindu Calendar Tithi

चतुर्दशी तिथि के स्वामी देव भगवान शिव है. इस तिथि में जन्म लेने वाले व्यक्तियों को नियमित रुप से भगवान शिव की पूजा करनी चाहिए. यह तिथि रिक्ता तिथियों में से एक है.  इसलिए मुहूर्त कार्यो में

कार्तिक मास - 12 चन्द्र मास | Kartik Month - 12 Moon Month

जिस व्यक्ति का जन्म कार्तिक मास में हो वह व्यक्ति धन-धान्य का स्वामी होता है. काम विषयों में अधिक रुचि लेता है. इसके अलावा वह लोगों के साथ बुरा आचरण करने वाला होता है. ऎसे व्यक्ति को क्रय-विक्रय के

अष्टमी तिथि - हिन्दू कैलेण्डर तिथि | Ashtami Tithi - Hindu Calendar Tithi । Hindu Calendar Date । Ashtami Tithi Yoga

चन्द्र मास में सप्तमी तिथि के बाद आने वाली तिथि अष्टमी तिथि कहलाती है. चन्द्र के क्योंकि दो पक्ष होते है. इसलिए यह तिथि प्रत्येक माह में दो बार आती है. जो अष्टमी तिथि शुक्ल पक्ष में आती है, वह शुक्ल

अष्टमी तिथि - हिन्दू कैलेण्डर तिथि | Ashtami Tithi - Hindu Calendar Tithi । Hindu Calendar Date । Ashtami Tithi Yoga

चन्द्र मास में सप्तमी तिथि के बाद आने वाली तिथि अष्टमी तिथि कहलाती है. चन्द्र के क्योंकि दो पक्ष होते है. इसलिए यह तिथि प्रत्येक माह में दो बार आती है. जो अष्टमी तिथि शुक्ल पक्ष में आती है, वह शुक्ल

द्वादशी तिथि - हिन्दू कैलेन्डर तिथि | Dwadashi Tithi - Hindu Calendar Tithi | Dwadashi Tithi Vaar Yoga

द्वादशी तिथि में जन्म लेने वाला व्यक्ति चंचल बुद्धि का होता है. उसके विचारों में अस्थिरता रहती है. इस योग के व्यक्ति की शारीरिक रचना कठोर होती है. वह व्यक्ति विदेश भ्रमण करने वाला होता है. तथा ऎसे

रविवार के दिन क्या कार्य करना शुभ है:? | Auspicious Works Done on Sunday

"दैनिक जीवन में प्रतिदिन के कार्यो में शुभता बनी रही. जिसके लिये कार्य के लिये शुभ मुहूर्त निकालने के लिये अत्यधिक मेहनत भी न करनी पडे"  इस प्रकार का विचार सभी के मन में आता है. परन्तु इस समस्या

त्रयोदशी तिथि - हिन्दू कैलेण्डर तिथि | Trayodashi Tithi - Hindu Calendar Date | How is Trayodashi Tithi Formed

त्रयोदशी तिथि में जन्म लेन वाला व्यक्ति महासिद्ध होता है. वह कई विद्याओं का ज्ञाता होता है. उसे अधिक से अधिक विद्या अर्जन में रुचि होती है. उसे धार्मिक शास्त्रों में निपुणता प्राप्त होती है. इसके साथ

त्रयोदशी तिथि - हिन्दू कैलेण्डर तिथि | Trayodashi Tithi - Hindu Calendar Date | How is Trayodashi Tithi Formed

त्रयोदशी तिथि में जन्म लेन वाला व्यक्ति महासिद्ध होता है. वह कई विद्याओं का ज्ञाता होता है. उसे अधिक से अधिक विद्या अर्जन में रुचि होती है. उसे धार्मिक शास्त्रों में निपुणता प्राप्त होती है. इसके साथ

गुरुवार व्रत | Thursday Vrat Method - Aarti | Thursday Fast in Hindi - Guruvar Vrat (Brihaspati Vrat)

गुरुवार का व्रत विशेष रुप से विवाह मार्ग की बाधाओं में कमी करने के लिये किया जाता है. देव गुरु वृ्हस्पति धन के कारक ग्रह है, इसलिये इस दिन माता लक्ष्मी जी की पूजा उपासना करने से व्यक्ति की आर्थिक

एकादशी तिथि - हिन्दू कैलेण्डर मास | Ekadasi Tithi - Hindu Calendar Date । Ekadashi Fast Importace । Ekadasi Tithi Yoga

एक चन्द्र मास मे 30 दिन होते है. साथ ही एक चन्द्र मास दो पक्षों से मिलकर बना होता है. दोनों ही पक्षों की ग्यारहवीं तिथि एकादशी तिथि कहलाती है. सभी तिथियों की तुलना में एकादशी तिथि का विशेष महत्व होता